Friday, September 8, 2017

Awarded By Voice president of India,

51 वीं अंतर्राष्ट्रीय साक्षरता दिवस पर विज्ञानं भवन नई दिल्ली में उप राष्ट्रपति से पुरस्कार लेते डुमरी कला के प्रेरक अजय कुमार एवं प्रधानाध्यापक संजय कुमार झा।




51 वीं अंतर्राष्ट्रीय साक्षरता दिवस !Vice-President presents Saakshar Bharat Awards on 51st International Literacy Day

आज 51 वीं अंतर्राष्ट्रीय साक्षरता दिवस पर विज्ञानं भवन नई दिल्ली में उप राष्ट्रपति से पुरस्कार लेते डुमरी कला के प्रेरक अजय कुमार एवं प्रधानाध्यापक संजय कुमार झा।
DUMARI KALAN,dumari kalan ,51 वीं अंतर्राष्ट्रीय साक्षरता दिवस

सीतामढ़ी के मेजरगंज ब्लाक की डुमरी कलां पंचायत ने बिहार का सम्मान बढाया है ! इस पंचायत के आदर्श मध्य विधालय डुमरी में संचालित लोक शिक्षाकेंद्र को देशभर के सर्वश्रेष्ठ पांच पंचायत केन्द्रों में चुना गया है !

Wednesday, September 6, 2017

राष्ट्रपति से सम्मानित होंगे डुमरी कला लोक शिक्षण केंद्र के प्राचार्य संजय कुमार  और प्रेरक अजय कुमार

राष्ट्रपति से सम्मानित होंगे डुमरी कला लोक शिक्षण केंद्र के प्राचार्य संजय कुमार  और प्रेरक अजय कुमार

डुमरी कलां (सीतामढ़ी) : साक्षरता के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने के लिए लोक शिक्षण केंद्र डुमरी कला के प्रधान !
सीतामढ़ी के मेजरगंज ब्लाक की डुमरी कलां पंचायत ने बिहार का सम्मान बढाया है ! इस पंचायत के आदर्श मध्य विधालय डुमरी में संचालित लोक शिक्षाकेंद्र को देशभर के सर्वश्रेष्ठ पांच पंचायत केन्द्रों में चुना गया है !
साक्षरता के क्षेत्र में उत्कृष्ट कार्य करने के लिए लोक शिक्षण केंद्र डुमरी कला के प्रधानाध्यापक संजय कुमार एवं वरीय प्रेरक अजय कुमार को आगामी 8 सितंबर को उपराष्ट्रपति द्वारा सम्मानित किया जाएगा। इस केंद्र को एक बार दो दो सम्मान से सम्मानित किए जाने के लिए चयनित किया गया है।
डीपीओ मो. जियाउद होदा खां ने जानकारी देते हुए बताया लोक शिक्षण केंद्र द्वारा साक्षरता के क्षेत्र में बेहतर कार्य किया है। इनके बेहतर कार्य के कारण ही डुमरी कला पंचायत में शत प्रतिशत लोग साक्षर हो चुके हैं। सीतामढ़ी दौरे पर आई केंद्र एवं राज्य की टीम ने मूल्यांकन किया था। जिसमें डुमरी कला लोक शिक्षण केंद्र के कार्यों की सराहना करते हुए रिपोर्ट भेजी थी। इनके रिपोर्ट के आधार पर इस लोक शिक्षण केंद्र को राजकीय एवं राष्ट्रीय सम्मान से सम्मानित के लिए चयन किया गया है।
राष्ट्रपति से पुरस्कार पाने के लिए प्रधानाध्यापक संजय कुमार एवं वरीय प्रेरक अजय कुमार को दिल्ली रवाना कर दिया गया है। जबकि राजकीय सम्मान प्राप्त करने के लिए मुखिया चंदा ¨सह सहायक प्रेरक एवं एसआरजी संजय कुमार मधु को पटना के लिए रवाना किया गया है।
5पंचायतो के लोकशिक्षा केंद्र को सर्वश्रेष्ठ आंका गया!
उपराष्ट्पति 8 सितम्बर की दिल्ली में करेंगे सम्मानित !
हम सभी डुमरीवासियों के लिए गर्व की बात है की डुमरी कलां पंचायत को यह सम्मान प्राप्त हुआ ! डुमरी कला लोक शिक्षण केंद्र के प्राचार्य संजय कुमार  और प्रेरक अजय कुमार को बहुत बहुत शुभकामनाए !

Monday, August 14, 2017

बाढ़ के बाद पानी में डूबा बिहार, देखें भयानक नजारा


जब भी बाढ़ शब्द सुनाई पड़ता है तब सामने गांव, खेत, जानवर, नाव, पानी आदि चीज़ें दिखाई पड़ा करती थीं. वहां रहने वाले लोग इसे उत्सव के तौर पर लेते थे. पानी आता था और चला जाता था. यह बाढ़ तब भी मौसम में कई बार आती थी. और यही खेती की जरूरत होती थी. बुज़ुर्ग लोग बताते हैं कि बाढ़ ढाई दिन से ज़्यादा की नहीं होती थी और खूंटा देख कर ही पानी भाग जाया करता था यानी रिहायशी इलाकों में बिरले ही घुसता था.






उस ढाई दिन की बाढ़ को हमने बड़े परिश्रम से ढाई महीने की बाढ़ में परिववर्तित कर दिया. हम यहीं नहीं रुके. हमने उतना ही श्रम करके ग्रामीण क्षेत्र की बाढ़ को शहरी इलाकों की बाढ़ बना दिया. अब नाशिक, भोपाल, नागपुर, चेन्नेई, जलंधर, मेहसाणा, बंगलुरु, बांसवाड़ा, मुंबई आदि शहर सुर्खियों में रहते हैं. इस उपलब्धि का श्रेय किसी को तो मिलना चाहिये.
योजना काल में देश का बाढ़ प्रवण क्षेत्र 25 मिलियन हेक्टेयर से बढ़ कर 50 मिलियन हेक्टेयर हो गया और किसी के चेहरे पर कोई शिकन नहीं है. हमारी हालत उस गाड़ीवान की तरह से हो गई है जो अपना माल गाड़ी पर लादता है, आगे कीले पर लालटेन टांग देता है, खुद सो जाता है और उसके बैल चल पड़ते हैं़ बैल चलते हैं और निर्विकार भाव से सड़क पर पेशाब करते हुए आगे बढ़ते हैं अपने पीछे साइन कर्व का निशान छोड़ते हुए़ जिसकी चिंता बैल, गाड़ीवान और सड़क का इस्तेमाल करने वाले दूसरे लोग, कोई भी नहीं करता. जब गाड़ीवान ही सो गया हो तो बैल भी मस्त ही रहते हैं.
बाढ़ नियंत्रण पर हमारा निवेश फ़ायदे की जगह नुकसान पहुंचा रहा है इसकी चिंता किसी को तो करनी चाहिये.

बाढ़ के बाद पानी में डूबा बिहार के सीतामढ़ी जिले का डुमरी पंचायत ।

बाढ़ की स्तिथि सीतामढ़ी ज़िले में अब भयानक रूप ले चुकी है ! 
 सीतामढ़ी जिले का मेजरगंज प्रखण्ड अब बुरी तरह बाढ़ से घिर चुका है।ज्यादातर सड़कों पर 5 फीट पानी बह रहा है। मुख्य सड़कों पर अब पानी बहने लगा है।

Dumari Kalan ,Mejorganj sitamarhi

कुछ गाँव में तो कोई भी स्थान ही नहीं बचा है जहाँ शरण लिया जा सके।प्रशासन की तरफ से अभी तक कोई भी राहत नहीं मिला है।ऐसा लगता है जैसे मेजरगंज सीतामढ़ी जिला का हिस्सा ही नहीं है।बुरी तरह घिर चुके कुछ गाँव से लोगों को निकालने के लिए NDRF की सख़्त जरूरत है।


सभी सक्षम अधिकारियों से अनुरोध है कि कृपया मेजरगंज की जनता की मदद के लिए तुरत कुछ करें !